Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

आरएसएस कार्यकर्ता ने कोरोना वैक्सीन ट्रायल के लिये किया देहदान, कहा- संघ से मानव सेवा ही सीखा

62

New Delhi : आईसीएमआर और भारत बायोटेक ने कोरोना वायरस रोकने के लिए को-वैक्सीन बना रही है। 15 अगस्त को इसके लॉन्चिंग की तैयारी है। इसके लिए 7 जुलाई (मंगलवार) से मानव शरीर पर वैक्सीन का ट्रायल शुरू किया जाएगा। पश्चिम बंगाल के दुर्गापुर के शिक्षक चिरंजीत धीवर ने ट्रायल के लिए अपना शरीर देने की पेशकश की थी। जिसे स्वीकार करते हुए आईसीएमआर द्वारा उसे सूचित किया गया है कि उसका चयन ट्रायल के लिए किया गया है।
चिरंजीत राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ता हैं, उनका कहना है कि संघ से प्रेरित होकर वह मानव सेवा के लिए आगे आए हैं। आईसीएमआर द्वारा इस व्यक्ति का ट्रायल कोरोना संक्रमित और गैर कोरोना संक्रमित व्यक्तियों पर किया जाएगा। भुवनेश्वर के द आईएमएस एंड एसयूम अस्पताल में यह प्रक्रिया पूरी की जाएगी, जिसके लिए चिरंजीत का चयन किया गया है। वैसे कल केंद्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि 15 अगस्त तक किसी भी सूरत में कोरोना का वैक्सीन संभव नहीं है। 2021 से पहले वैक्सीन लाना संभव नहीं हो सकेगा।

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.