Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

कानपुर शूटआउट के बाद से फरार Vikas Dubey का राइट हैंड अमर मुठभेड़ में ढेर

12

कानपुर शूटआउट के मुख्य अभियुक्त विकास दुबे के एक प्रमुख गुर्गे को पुलिस ने पश्चिमी यूपी के हमीरपुर में मार गिराया है। विकास दुबे के खास कहे जाने वाले अमर दुबे (Amar Dubey) से एसटीएफ की बुधवार सुबह एक मुठभेड़ हुई थी। इस ऑपरेशन में अमर को मार गिराया गया।

कानपुर शूटआउट के बाद से था फरार

पुलिस के मुताबिक, अमर दुबे विकास दुबे के साथ कानपुर के बिकरू गांव में हुए शूटआउट में शामिल था। अमर ने विकास और उसके साथियों के साथ मिलकर पुलिस टीम पर भारी गोलाबारी की थी। इस घटना में 8 पुलिसकर्मियों के शहीद होने के बाद से ही उसकी तलाश की जा रही थी। अमर पर 25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था।

हमीरपुर में रिश्तेदार के घर छिपने का था प्लान

बताया जा रहा है कि अमर दुबे हमीरपुर के मौदहा इलाके में अपने किसी रिश्तेदार के घर पनाह लेने के इरादे से आया था। इससे पहले उसने हरियाणा के फरीदाबाद में शरण ली थी। अमर दुबे की मूवमेंट के बाद उसे एसटीएफ ने घेरकर सरेंडर करने के लिए कहा था। इसी दौरान दुबे ने भागने की नाकाम कोशिश करते हुए गोलीबारी की और क्रॉस फायरिंग में पुलिस ने उसे ढेर कर दिया।

2 जुलाई को फायरिंग के वक्त था विकास के साथ

बताया जा रहा है कि 2 जुलाई की रात को जब विकास दुबे के घर पर पुलिस दबिश देने गई थी तो अमर दुबे भी वहां मौजूद था। पुलिसवालों पर फायरिंग करने में और उनकी जान लेने में वह भी शामिल था। घटना के बाद से अमर विकास के साथ ही भाग निकला था। अमर विकास के सबसे खास लोगों में से एक था।

पश्चिम यूपी से हरियाणा तक विकास की तलाश

अमर दुबे के अलावा पुलिस की टीमों ने विकास दुबे की तलाश के लिए पश्चिम यूपी के तमाम जिलों में डेरा डाल रखा है। विकास की तलाश के लिए वेस्ट यूपी और बुंदेलखंड के कुछ इलाकों में एसटीएफ टीमों को लगाया गया है। इसके अलावा दिल्ली और हरियाणा की हर उस अदालत पर नजर रखी जा रही है, जहां विकास दुबे के सरेंडर करने का शक है।

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.