Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

*सीमेन्ट व्यापारी बृजेश चौरसिया एवं उसकी लडकी महिमा चौरसिया की गोली लगने से हुयी संदिग्ध मौत*

0 34

*पुलिस ने हत्या और आत्महत्या के षड्यंत्र का मामला दर्ज किया आठ लोगो पर*

सागर। बहुचर्चित चोरिसिया कांड का खुलाशा। पुलिस के मुताबिक सागर के थाना सिविल लाइन सागर में दिनांक 17.7.19 को मृतक बृजेश उर्फ अजय चौरसिया पिता स्वं. नारायण प्रसाद चौरसिया उम्र 46 साल एवं कुमारी महिमा पिता बृजेश उर्फ
अजय चौरसिया उम्र 16 साल निवासी तिली वार्ड थाना गोपालगंज सागर की गोली लगने से ।हुयी संदिग्ध मृत्यु की सूचना पर थाना सिविल लाइन में मर्ग कमाक 20/2019 एवं 21/2019
धारा 174 जाoफ दिनांक 17.7.19 को कायम किया। मामला पुणतः स्पष्ट ना होने से एवं दोनो मृतकों की संदिग्ध मौत का कारण जानने के लिए श्रीमान् पुलिस महानिरीक्षक महोदय एवं
श्रीमान् उप पुलिस महानिरीक्षक के निर्देशन में श्रीमान् पुलिस अधीक्षक महोदय सागर श्री
अमित सांघी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री राजेश व्यास द्वारा उपरोक्त मामले की विधिवत
जांच हेतु जांच दल गठित किया। जांच में एफ.एल.एल विशेषज्ञों एवं अन्य तकनीकी साधनो
तथा गवाही एव परिजनों से आये तथ्यो एवं मृतक द्वारा लिखित दस्तावेजो के आधार पर
जानकारी मिली कि मृतक काफी समय से बैंक से लिए कर्ज तथा अन्य साहूकार मनोज यादव,
सोहन केशरवानी, अनिल शुक्ला, श्यामसुंदर सोनी, सुरेन्द्र साहू, राजेश मिश्रा, गौरव भारद्वाज
से चल रहे पैसो के लेन देन के कारण काफी प्रताडित था उक्त साहू कारों द्वारा लगातार
मृतक को एवं उसके परिवार को क्षति पहचाने की धमकियों मृतक बजेश को दी जा रही थी।
इस प्रकार मृतक को अपने आप को खत्म करने के अलावा अन्य कोई विकल्प शेष ना रह
जाने से अपनी आत्म हत्या करने के लिए बाध्य होना पड़ा। जांच में पाया गया कि एक व्यक्ति
घटना दिनांक से 03 दिन पहले से मृतक बृजेश उर्फ अजय चौरसिया के साथ गुप्त ढंग से
उसके ऑफिस/ होटल में रूका हुआ था जिसके संबंध में पता लगाने पर यह जानकारी मिली।
की उक्त व्यक्ति का नाम रंजन राय निवासी दुर्गापुर पश्चिम बंगाल का रहने वाला है जिसके ।
साथ मिलकर योजना वद्ध तरीके से मृतक ने अपनी आत्म हत्या का षडयंत्र रचा था। एफ.एस. ।
एल.जाचं रिपोर्ट में मृतक की पत्नि राधा चौरसिया के ब्लड सैम्पल में नींद की दवाई उपस्थित
होना पाया गया। तथा मृतक द्वारा स्वंय गोली चलाना भी पूर्णतः स्पष्ट है। मामले में अब तक
की जांच के आधार पर घटना के आरोपी
*मनोज यादव,सोहनकेशरवानी, अनिल शुक्ला,श्यामसुंदर सोनी, सुरेन्द्र साहू,राजेश मिश्रा, गौरव भारद्वाज एवं घटना के षडयंत्र में शामिल रंजन राय के विरूद्ध अप00 149/19 धारा 302,306,120बी,109 ताहि 25,27 आम्र्स एक्ट काकायम किया गया है* मामले में प्रयुक्त हथियार एवं अन्य तथ्यो के सबंध में गहन विवेचना
जारी है। आरोपी रंजय राय को रवाना शुदा टीम द्वारा दुर्गापुर में ही गिरफतार कर लिया गया
है, जिसे रिमाण्ड पर लिया गया हैं।
आरोपी रंजन राय के सागर के आने के बाद पूछतांछ कर पृथक से विस्तृतजानकारी दी जावेगी।

0
0
Leave A Reply

Your email address will not be published.