Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

विकास दुबे के घर से मिली पुलिस से लूटी गई एके-47

3
पुलिस से लूटी गई एके-47 व इंसास रायफल बरामद…

कानपुर। कानपुर के बिकरू गांव में 2/3 जुलाई की रात सीओ देवेंद्र मिश्र सहित 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर लूटी गई एके-47 रायफल एवं इंसास रायफल को पुलिस ने 11दिन बाद बीती देर रात मुठभेड़ में मारे जा चुके राजाराम उर्फ प्रेम कुमार पांडेय के पुत्र 50 हजार के इनामी शशिकांत उर्फ सोनू पांडेय को गिरफ्तार किया है। इस बरामदगी की जानकारी देने के लिए लखनऊ से अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार विशेष रूप से कानपुर पहुंचे थे।
पुलिस लाइन में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में इस बरामदगी की जानकारी देते हुए एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि घटना वाली रात पुलिस के लूटे गए हथियारों की बरामदगी के लिए एसएसपी, एसपी (पश्चिम) एवं एसपी (ग्रामीण) के नेतृत्व में कई टीमें गठित की गईं थीं। रात ढाई बजे रेल बाजार एवं शिवराजपुर थाने की पुलिस व एसओजी की टीम ने मेला तिराहा, कस्बा चौबेपुर से शशिकांत पांडेय को गिरफ्तार कर उसके घर से इंसास रायफल व 17 कारतूस एवं उसकी निशानदेही पर विकास दुबे के घर छिपाकर रखी गई एके-47 रायफल एवं 20 कारतूस बरामद किए।
एडीजी के अनुसार शशिकांत उर्फ सोनू पांडेय ने पूछताछ में बताया है कि घटना वाली रात बिकरू गांव में विकास दुबे के घर उसके साथ पुलिसकर्मियों पर किए गए हमले में अमर दुबे, अतुल दुबे, प्रेम कुमार, प्रभात मिश्रा, बउउन, हीरू, शिवम, जिलेदार, रामसिंह, रमेशचंद्र, गोपाल सैनी, अखिलेश मिश्रा, विपुल, श्यामू वाजपेई, राजेंद्र मिश्रा, बालगोविंद दुबे एवं दयाशंकर अग्निहोत्री आदि शामिल थे। उन्होने बताया कि इस मामले में अब तक मुख्य आरोपी सहित 6 अपराधी मुठभेड़ में मारे जा चुके हैं, जिनमें विकास दुबे, प्रभात मिश्रा, प्रेम प्रकाश पांडेय उर्फ राजाराम, अतुल दुबे, अमर दुबे व प्रवीण दुबे शामिल है। 7 आरोपियों को 120बी एवं 2 आरोपियों को 216 के तहत जेल भेजा जा चुका है। नामजद 11 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं।
बेरहमी के साथ मारा गया था पुलिसकर्मियों को…
बिकरू नरसंहार में शहीद हुए पुलिसकर्मियों की जो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई है, वो बेहद चौंकाने वाली है। रिपोर्ट से खुलासा हुआ है कि सीओ देवेंद्र मिश्रा समेत सभी पुलिसकर्मियों की बड़ी ही बेरहमी से हत्या की गई थी। हत्या करने के लिए धारधार हथियारों का भी इस्तेमाल किया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक सीओ देवेंद्र मिश्रा को 4 गोली मारी गई, जिसमे से तीन उनके शरीर से पार हो गई। एक गोली सर में, एक छाती में और 2 पेट में मारी गई। इसके अलावा उनके पैर को भी काटा गया, सभी गोली प्वाइंट ब्लैंक रेंज से मारी गई। इसके अलावा 3 पुलिसकर्मियों के सर पर और एक के चेहरे पर गोली मारी गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ये साफ होता है कि बेहद बेरहमी के साथ सभी का कत्ल किया। 

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.