Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई से सहारा मिलेगा- मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

35

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने किया ई-लोकार्पण

सागर स्मार्ट सिटी ने जिला अस्पताल परिसर में कराया है निर्माण

होटलनुमा रैन बसेरा सागर के लिए मील का पत्थर साबित होगा- सांसद राज बहादुर सिंह

मरीजों के परिजनों के लिए रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई कारगर साबित होंगे- विधायक शैलेंद्र जैन

सागर:- रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई की लोगों को बहुत आवश्यकता होती है। इनके निर्माण से जरूरतमंदों को बहुत बडा सहारा मिलेगा। यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री माननीय शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कही। वे भोपाल के मिंटो हॉल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान प्रदेश के 24 शहरों में 1056 करोड रुपए की लागत से हुए निर्माण कार्यों का ई-लोकार्पण कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने सागर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा जिला अस्पताल परिसर में 81 लाख रुपए की लागत से बनवाए गए रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई का भी ई-लोकार्पण किया। इस दौरान केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते, नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह, मंत्रीगण जगदीश देवडा, विश्वास सारंग, ओपीएस भदौरिया भोपाल से ऑनलाइन और स्थानीय कार्यक्रम में सांसद राजबहादुर सिंह और विधायक शैलेन्द्र जैन बतौर विशिष्ट अतिथि मौजूद थे। स्थानीय कार्यक्रम में भी अतिथियों ने लोकार्पण किया।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संबोधन में कहा कि स्मार्ट सिटी मिशन के तहत मध्यप्रदेश को 11 उत्कृष्ट पुरस्कार प्राप्त हुए हैं। इन्क्यूबेशन सेंटर की मदद से नौजवानों को स्टार्टअप्स शुरू करने का मौका मिल रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले 15 वर्षों में प्रदेश के शहरों का स्वरूप बदला है। इससे पहले नगरीय विकास एवं आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के अथक प्रयासों से प्रदेश बीमारू से अग्रणी राज्य बन गया है। नगरीय निकायों की योजनाओं में प्रदेश अब देश में पहले स्थान पर है। स्वच्छता, स्ट्रीट वेंडर योजना और पीएम आवास योजना में भी प्रदेश पूरे देश में अव्वल है।

होटलनुमा आश्रय स्थल की सौगातः सांसद
जिला अस्पताल परिसर में नवनिर्मित रैन बसेरा के सामने आयोजित लोकार्पण कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सांसद राजबहादुर सिंह ने कहा कि होटलनुमा रैन बसेरा सागर के लिए मील का पत्थर साबित होगा। उन्होंने कहा कि हमारे यहां एक मरीज के साथ 4-5 लोग आते हैं। सर्दी, बारिश, गर्मी में वे परेशान होते थे। अब उनके लिए सर्वसुविधायुक्त आश्रय स्थल की सौगात मिल रही है। उन्होंने कहा कि दीनदयाल रसोई में मात्र 10 रुपए में भरपेट भोजन मिलने से पंडित दीनदयाल उपाध्याय का सपना साकार होगा। उन्होंने स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य की सराहना करते हुए कहा कि अब नगर निगम के सेवाभावी कर्मचारी इसका संचालन इस तरह करें, जिससे व्यवस्थाएं बेहतर रहें।

स्मार्ट तरीके से हुआ निर्माणः विधायक
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक श्री शैलेन्द्र जैन ने कहा कि जिला अस्पताल और बीएमसी में भर्ती होने वाले मरीजों के परिजनों के लिए नवनिर्मित रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई कारगर साबित होंगे। सागर स्मार्ट सिटी ने स्मार्ट तरीके से इसका निर्माण कराया है। महिलाओं के ठहरने के लिए पुराने रैन बसेरा का कायाकल्प कर अलग ब्लॉक बनाया गया है। पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने अंत्योदय की कल्पना की थी। दीनदयाल रसोई के माध्यम से इस वर्ग को सहारा मिलेगा। उन्होंने कहा कि सागर स्मार्ट सिटी बडे-बडे काम कर रही है, लेकिन रैन बसेरा के निर्माण से उसे लोगों की दुआएं मिलेंगी। इस तरह के कार्य संवेदनशील अधिकारी और सरकारें ही करती हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों के परिजनों को आई कार्ड दिए जाएं, जिससे उन्हें रैन बसेरा में ठहराने की व्यवस्थाएं की जा सकें।

दीनदयाल रसोई में भोजन किया
अतिथियों ने ऑनलाइन कार्यक्रम के बाद रैन बसेरा और दीनदयाल रसोई का लोकार्पण किया। इसके बाद अधिकारियों के साथ नवनिर्मित भवन का निरीक्षण किया और व्यवस्थाएं देखकर सराहना की। इसके बाद अतिथियों ने दीनदयाल रसोई में भोजन भी किया।

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.