सागर

सिविल लाइन पुलिस ने अंधेकत्ल का किया खुलासा

सागर- ज्ञात हो थाना सिविल लाईन थाना अंतर्गत दिनांक 01.08.2020 को आरटीओ कार्यालय सागर के पास एक अज्ञात व्यक्ति(पुरुष) की लाश पड़ी हुई मिली थी जिसकी सूचना प्राप्त होने पर थाना सिविल लाईन पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच में लिया।

मामले की गंभीरता को देखते हुये सभी वरिष्ठ अधिकारियो ने पुलिस अधीक्षक सागर अतुल सिंह एवं अति.पुलिस अधीक्षक सागर द्वारा घटना स्थल का निरीक्षण कर मामले को गंभीरता से लेते हुये नगर पुलिस अधीक्षक मकरोनिया एवं थाना प्रभारी सिविल लाईन जे. पी.ठाकुर को आवश्यक निर्देश दिये वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में  सिविल लाइन पुलिस ने जांच के दौरान अज्ञात व्यक्ति की विक्षिप्त अवस्था में मिली अज्ञात लाश की तस्वीर वाट्सअप के माध्यम से सोशल मीडिया पर वायरल की जिसके फलस्वरूप उक्त अज्ञात लाश की शिनाख्त नंदकिशोर उर्फ टंउआ पिता भगवानदास अहिरवार उम्र 30 साल निवासी खुशीपुरा तुलसीनगर वार्ड थाना मोतीनगर जिला सागर के रूप में शिनाख्त हुई।

मृतक का पी एम.कराया जाकर मृतक की लाश परिवारजनों को सौंपी गई मृतक की सॉर्ट पी.एम रिपोर्ट एवं क्योरी रिपोर्ट पर डॉक्टर द्वारा मृतक को पेट एवं सिर तथा सीना में आई चोटों से मृत्यु होना लेख किया गया जिस पर प्रथम दृष्टया अप.धारा 302,201 ताहि. का पाये जाने से थाना सिविल लाईन में अपराध कमांक 161/20 धारा 302,201 ताहि. का पंजीबद्द कर विवेचना में लिया गया  विवेचना के दौरान सिविल लाइन पुलिस के द्वारा मृतक के मोबाईल की कॉल डिटेल की सीडीआर प्राप्त कर आखरी दिनांक की कॉल डिटेल वाले लोगों से पूछताछ की गई जिसमें खुलासा हुआ कि मृतक नंदकिशोर दिनांक 29.07.2020 को दो दोस्तों के साथ घर पर शराब पीकर खाना खाकर मोटर साईकिल प्लेटिना से घूमने गया था।

संदेहीयों से पूछताछ की गई जिसमें गोविंद यादव पथरिया जाट एवं जित्तु उर्फ जितेन्द्र अहिरवार निवासी गुरूगोविंद सिंह वार्ड द्वारा जुर्म स्वीकार करते हुये बताया गया कि शराब पीने एवं खाना खाने के बाद यह तीनों घूमने गये थे जो पथरिया जाट घाटी आरटीओ कार्यालय की ढलान पर जित्तू व गोविंद द्वारा टंउआ उर्फ नंदकिशोर की पत्नि के संबंध में अश्लील बातें करने पर से झगड़ा हो गया था। जिस पर गोविंद यादव और जित्तु अहिरवार ने मिलकर नंदकिशोर उर्फ टंउआ की छुरा और तलवार से मारपीट कर एवं सिर पर पत्थर पटकर हत्या कर दी थी एवं लाश को ले जाकर झाड़ियों में छिपा दिया एवं यह दोनों साथ में मोटर साईकिल कमांक MP-15-MY-6220 से बरमान चले गये थे। उक्त घटना में प्रयुक्त हथियार आरोपियों से जप्त कर आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

उक्त अंधे कत्ल के खुलासे में निरीक्षक जे.पी.ठाकुर, उनि.कमल किशोर मौर्य सउनि बृजलाल पटेल आर.739 ब्रजेश शर्मा,आर अमित पटेल 1373 आर.986 शरद एवं आर.1657 नौबत सिंह एवं आर.176 तूफान सिंह तथा सायवर सेल से आर.398 सौरभ पुलिस कंट्रोल रूम से उनि आर.के.एस.चौहान एवं आरक्षक चालक 1664 विकास मिश्रा की विशेष भूमिका रही।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: