Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

जिले के पत्रकार साथी गजेंद्र ठाकुर को न्याय दिलाने पत्रकारों ने सौंपा ज्ञापन

42

पुलिस अधीक्षक के नाम जरुआखेड़ा और देवरी में सौंपा गया ज्ञापन

पत्रकार पर झूठा प्रकरण दर्ज किए जाने को लेकर जिले के पत्रकारों में आक्रोश व्याप्त।

सागर। पत्रकारों ने बताया कि जिले के पत्रकार साथी गजेंद्र ठाकुर के विरुद्ध द्वेषभावना पूर्ण जैसीनगर थाना में आजमानती धाराओं में अपराध पंजीबद्ध किया गया है जिसको लेकर जिले के समस्त पत्रकार जगत में आक्रोश व्याप्त है घटना को लेकर जिले भर में पत्रकारों द्वारा ज्ञापन सौंपकर निष्पक्ष जांच की मांग की जा रही है इसी के चलते गुरुवार के दिन देवरी और जरुआखेड़ा क्षेत्र के समस्त पत्रकारों ने सागर के पत्रकार गजेंद्र ठाकुर पर दर्ज किए गए झूठे प्रकरण की निष्पक्षता से जांच कराने की मांग को लेकर पुलिस अधीक्षक महोदय के नाम ज्ञापन सौंपा है

ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि मोतीनगर निवासी पत्रकार गजेंद्र ठाकुर जन चिंगारी समाचार पत्र एवं खबर का असर डॉट कॉम वेबसाइट न्यूज़ के नाम से पत्रकारिता का कार्य करते हैं। जिनके विरुद्ध थाना जैसीनगर में उक्त प्रकरण दर्ज किया गया है ज्ञात हुआ है कि उनके द्वारा थाना जैसीनगर मैं फरार आरोपी चैन सिंह जो गैंगरेप का आरोपी है जो फरार इनामी आरोपी है जिस के संबंध में उनके द्वारा नियमित रूप से जनाक्रोश को खबर के माध्यम से प्रकाश किया जा रहा था जिससे कुंठित एवं कुपित होकर थाना प्रभारी एवं जैसीनगर पुलिस के द्वारा द्वेषभावना पूर्ण बिना जांच किए आननफानन में स्वयं अपने व्यक्तियों द्वारा आजमानती अपराध दर्ज किया गया। ज्ञात हो कि उनके द्वारा किसी भी धर्म मजहब विशेष पर किसी भी प्रकार की कोई टीका टिप्पणी नहीं की गई है ना ही किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत पहुंचाई गई है बल्कि उनके द्वारा थाना जैसीनगर में फरार आरोपी चेन सिंह के विरुद्ध खबर दिखाई गई थी। इसी बात को लेकर उन पर दबाव बनाने और उनकी आवाज को दबाने के लिए उन पर प्रकरण दर्ज किया गया। जिसको लेकर देवरी और जरुआखेड़ा नगर के समस्त पत्रकारों ने ज्ञापन के माध्यम से पत्रकार गजेंद्र ठाकुर पर दर्ज किए गए अपराध क्रमांक 0376/ 22 के प्रकरण में निष्पक्षता से जांच कर पत्रकार साथी को न्याय दिलाने की मांग की है

समस्त पत्रकारों का कहना है कि यदि निष्पक्षता से जांच नहीं की गई और पत्रकार साथी को न्याय नहीं मिला तो वह सड़कों पर उतर कर आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे ।

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.