Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

जिन व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण होने के उपरांत भी जांच कराने से बच रहे है ऐसे लोग समाज के मित्र नहीं है विधायक शैलेन्द्र जैन

11

वार्ड को रेड जोन से ग्रीन जोन में लाने हेतु वार्ड संकट प्रबध्ंन समिति मिलकर प्रयास करें: निगमायुक्त


सागर-: जिन व्यक्तियों में कोरोना के लक्षण होने के उपरांत भी जांच कराने से बच रहे है ऐसे लोग समाज के मित्र नहीं है इसलिये ऐसे लोगाें को चिन्हित कर उनके विरूद्व सख्त कार्यवाही की जाय। यह बात नगर विधायक शैलेन्द्र जैन ने डाॅ.हरीसिंह गौर की वार्ड संकट प्रबंधन समिति की बैठक लेते हुये कही। बैठक में मुख्य रूप से निगम उपायुक्त डाॅ.प्रणय कमल खरे, महिला एवं बाल विकास जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमति रचना बुधौलिया, सिविल लाईन थाना प्रभारी अनुपमा शर्मा के साथ अन्य अधिकारी वार्ड संकट प्रबंधन समिति के सदस्य उपस्थित थे।

आगे विधायक जैन ने कहा कि सेंपलिंग कार्य बेहद महत्वपूर्ण है इसलिये वार्ड संकट प्रबंधन समिति के सदस्य ग्रुप बनाकर वार्ड में लोगाें को सेपलिंग कराने के प्रति जागरूक करें इस हेतु वार्ड मे मुनादी भी करवायें तथा वार्ड में कितने निगेटिव, पाॅजीटिव मरीज है, कितने घरों में दवा वितरण की जा चुकी है, इसका पूरा रिकार्ड रखें वार्ड में सेनेटाईज का कार्य विशेषकर कंटेनमेंट क्षेत्र में सेनेटाईज का कार्य कराया जाय और वार्ड के लोगाें से अपील करें कि वार्ड को रेड जोन से ग्रीन जोन में लाने हेतु यह कार्य महत्वपूर्ण है, जो व्यक्ति होम कोरनटाइन किये गये है वह बाहर न घूमे इस पर वार्ड संकट प्रबंधन समिति के सदस्य निगरानी रखें और यदि कोई व्यक्ति बाहर घूमते हुये पाया जाता है तो उसकी सूचना संबंधित पुलिस थाना में दें।

इसके अलावा उन्होने यह भी कहा कि जो व्यक्ति कोरोना से ठीक हो गये है उनका भी रिकार्ड रखा जाय और उनसे मोबाईल पर संपर्क कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी लेते रहे ताकि अन्य बीमारी उन्हें न हो पाये, वार्ड में कोरेाना से जिन व्यक्तियों की मृत्यु हुई है, कोरोना काल में कोरोना से जिन बच्चों के अभिभावक की मृत्यु हो गई है और वे अनाथ हो गये है उनकी भी जानकारी नगर निगम कार्यालय में दें ताकि मुख्यमंत्री द्वारा शुरू की गई योजना का लाभ उन्हें मिल सकें। इसी प्रकार जिन नागरिकों के आयुष्मान कार्ड नहीं बने है और वह इसके लिये पात्र है तो उनके भी कार्ड बनाये जाय।

बैठक में नगर निगम आयुक्त आर.पी.अहिरवार ने कहा कि इस वार्ड में कोरोना के 12 पाॅजीटिव प्रकरण है इसलिये इस वार्ड को रेड जोन में रखा गया है ,जिसे ग्रीन जोन में लाने के लिये प्रयास करें कि वार्ड में प्रकरणों की संख्या शून्य हो इसलिये कंटेनमेंट क्षेत्र में कोई अंदर या बाहर न जाय पाये इसपर निगरानी रखी जाय। लोगों की जांच कार्य एवं सेंपलिंग कार्य में वार्ड संकट समिति सदस्य अपना योगदान दें और लोगो को समझाइस दें कि यह कार्य उनके हित में है इसलिये कोरोना नियमों का पालन करें, पाॅजीटिव और निगेटिव प्रकरणों का पिछले एक माह का रिकार्ड बनाये और उनकी माॅनीटियरिंग करें, जिन घरों में होम कोरनटाइन हेतु पर्याप्त जगह नहीं है तो ऐसे व्यक्तियों को कोविड केयर सेंटर में भर्ती करें जहाॅ रहने खाने की जगह के साथ-साथ 24 घंटे चिकित्सकों द्वारा उसके स्वास्थ्य पर निगरानी रखी जायेगी इस प्रकार हम सभी को कोरेाना मुक्त वार्ड बनाने के लिये प्रयास करना है।

नीरज जैन🖋

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.