Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

सागर जरुआखेड़ा के चर्चित मुन्नालाल जैन अपहरण, लूट, हत्या के मामले का पुलिस ने किया खुलासा

47

सागर:- दिनांक 12.6.22 को थाना नरयावली क्षेत्रांतर्गत ग्राम जरुआखेड़ा में चर्चित सराफा व्यापारी मुन्नालाल जैन के अपहरण, हत्या, लूट मामले शनिवार को सागर संभाग आईजी ने किया खुलासा ज्ञात हो बीके 16 जून को नरयावली विधानसभा के जरुआ खेड़ा से एक अपहरण का मामला सामने आया था जिसमें रात्रि में नकली क्राइम ब्रांच पुलिस बनकर मुन्नालाल जैन का अपहरण तथा सराफा दुकान से सोने-चाँदी के जेवरता व नगदी राशि लूट कर ले गये थे। घटना की सूचना पर नरयावली थाने में अपराध क 219/2022 धारा 420, 419,365,380, 34 भादवि का कायम कर विवेचना में लिया गया था।

घटना की सूचना मिलने पर पुलिस महानिरीक्षक सागर जोन सागर अनुराग द्वारा उचित निर्देश दिये गये। घटना की गंभीरता के दृष्टिगत पुलिस अधीक्षक सागर तरूण नायक द्वारा स्वयं के मार्गदर्शन में अति. पुलिस अधीक्षक बीना एवं अति. पुलिस अधीक्षक सागर के नेतृत्व में अलग-अलग पुलिस टीम बनाकर प्रकरण के अपहृत व्यक्ति मुन्नालाल की दस्तयावी एवं आरोपियों की पतसाजी हेतु अलग-अलग स्थानों पर रवाना किया गया। घटना गंभीर होने से अज्ञात आरोपियों की पतारसी एवं अपहृत की दस्तयावी हेतु ईनाम उदघोषणा की गई एवं मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया। तकनीकि साक्ष्य एकत्रित करना शुरू किये गये।

पुलिस की विभिन्न टीम द्वारा दो राज्यों म.प्र. व उ.प्र. के कुल 09 जिलों में अलग-अलग स्थानों पर आरोपियों की पतासाजी हेतु सूचना संकलित की गई। पुलिस को प्रकरण की विवेचना के दौरान आये साक्ष्य एवं मुखबिर की सूचना मिलने पर दिनांक 17.6.22 को घटना कारित करने वाले आरोपीगण 1. अतुल वर्मा पिता हीरालाल वर्मा उम्र 28 वर्ष, 2. रूपेश शिरोडे पिता मधुकर शिरोडे उम्र 40 साल 3. गौरव त्रिवेदी पिता रमेशचंद त्रिवेदी उम्र 40 साल, 4 देवराज गुर्जर पिता केशर सींग गुर्जर उम्र 21 साल को गिरफ्तार किया गया।

गिरफ्तारी के साथ ही इस प्रकरण में लूटी गयी नगदी 30,79,000 रूपये 400 ग्राम सोना 50 किलो ग्राम चॉदी कुल कीमती एक करोड़ रूपये से अधिक एवं अपराध में प्रयुक्त डस्टर गाड़ी बरामद की गई। आरोपियों से पूछताछ पर उक्त आरोपियों द्वारा बताया गया कि पूर्व से परिचित आरोपी धर्मेन्द्र निवासी खुरई एवं आकाश राय जि. भोपाल के साथ मिलकर ग्राम जरुआखेड़ा आकर मुन्नालाल जैन की कुछ समय पहले रैकी की गई थी।

रैकी उपरांत योजना बनाकर घटना दिनांक को भोपाल से डस्टर गाड़ी की नं प्लेट बदलवाकर रात्रि में अपहृत को उसके घर जरुआखेड़ा से जंगल में ले जाकर अपहृत से सम्पत्ति की जानकारी प्राप्त कर, रात्रि में पुनः वापिस आकर के सराफा व्यापारी की दुकान से नगदी, सोना-चाँदी के जेवरात लूट कर अपहृत व्यापारी को जबरजस्ती साथ गाड़ी में ले जाकर के खुद की पहचान खुल जाने के डर से अपहृत की नशीला पाउडर की कोल्ड ड्रिंक पिलाकर, बेहोश हो जाने पर रस्सी से गला दबाकर उसकी हत्या करने के उपरांत शव को जोहरिया के जंगल सीहोरा राहतगढ़ क्षेत्र में छिपाने का प्रयास किया गया। सफलता न मिलने पर अपहृत के शव पर पेट्रोल डालकर उसे जलाकर साक्ष्य को मिटने का प्रयास किया गया तथा लूटा गया मशरूका लेकर भोपाल भाग गये थे।

आरोपियों द्वारा दिनांक 13.6-22 को अपहृत मुन्नालाल जैन के यहाँ से छोटे बैग में लूट कर ले जायी गयी सम्पत्ति आपस में हिस्स-बॉट कर लेना एवं उक्त घटना में आरोपी धर्मेन्द्र एवं आकाश राय के सहयोग से रेकी करना बताया गया है। पुलिस महानिदेशक ने बताया कि इन आरोपियों को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड की मांग की जाएगी ताकि और भी जानकारियां निकलवाई की जा सके।

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.