Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

बेटियां पालना किसी साधना से कम नहीं कथावाचक अजय कृष्ण रसिक जी

47

सागर :- मकरोनिया के गायत्री नगर में चल रही श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन कथावाचक पंडित अजय कृष्ण रसिक जी महाराज ने उपस्थित श्रोताओं को बेटियों के महत्व को बताते हुए बताया की बेटियां पालना किसी साधना से कम नहीं है बेटियां साक्षात दुर्गा का रूप होती है आगे कथा में उन्होंने भगवान शिव द्वारा माता पार्वती को अमर कथा सुनाने का वर्णन किया साथ ही सुखदेव जी के जन्म की कथा सुनाते हुए कहा कि सत्य से बढ़कर कोई धर्म नहीं इसलिए हमें धर्म के रास्ते पर चलना चाहिए भागवत कथा का एक शब्द भी जीवन में उतारने से पुण्य की प्राप्ति हो जाती है भागवत ही एक ऐसा ग्रंथ है जिसमें भगवान ने किसी देव की बंदना नहीं की सिर्फ सत्य की वंदना की है भगवान को मात्र भाव चाहिए वह इसी से खुश हो जाते हैं भगवान कृष्ण के चरणों में प्रीति रखना ही धर्म है कथा में मुख्य यजमान श्रीमती सुधा पवन शर्मा श्रीमती चंदा सेन ओमवती वर्मा रुकमणी देवी रचना ठाकुर राजकुमारी गौतम मुन्नी साहू बबलू तिवारी अजय पटेरिया राजकुमार साहू वंदना साहू गुड्डा महाराज पुरुषोत्तम शर्मा कैलाश राठौर विश्वकर्मा जी गणेश ठाकुर मुकेश नेहा बंदना रामकली शर्मा श्रीमती लक्ष्मी साहू फूल सिंह पटेल शांति सेन सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु जन उपस्थित थे

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.