Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

श्री सम्मेद शिखर को पर्यटन स्थल घोषित करने का प्रयास दुर्भाग्यपूर्ण डा. सिंथिल पड़ेले महामंत्री जैन युवा महासभा*

41

सागर:- श्री सम्मेद शिखर जी को पर्यटन स्थल बनाने का प्रस्ताव झारखण्ड सरकार द्वारा पारित कर केंद्र सरकार को भेजा गया जिससे समूची जैन समाज में भारी आक्रोश व्याप्त है और समूचे विश्व में निवासरत जैन समाज लोग अहिंसा पूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन कर श्री सम्मेद शिखर जी को पर्यटन स्थान बनाने के निर्णय का विरोध कर रहें इसी तार्तम्भ्य में जैन युवा महासभा सागर द्वारा पत्रकार वार्ता आयोजित की गई

पत्रकारवार्ता को संबोधित करते हुए जैन युवा महासभा महामंत्री सिंथिल पड़ेले ने कहा कि श्री सम्मेद शिखर को पर्यटन स्थल घोषित करने का प्रयास दुर्भाग्यपूर्ण हैं जिसकी हम कड़े शब्दो में निंदा करते हैं
शाश्वत तीर्थ श्री सम्मेद शिखर जी जहां की पवित्र भूमि से जैन धर्म के 20 तीर्थंकर परमात्माओ के पवित्र निर्माण की यह पवित्र भूमि हैं यह पवित्र तीर्थ स्थल समूचे जैन समुदाय की आस्था और श्रद्धा का केंद्र है इस देव भूमि की पवित्रता एवं सुचिता बनी रहे इसलिए सरकार इस पवित्र क्षेत्र को तीर्थाटन ही रहने दे और पर्यटन स्थल बनाने का निर्णय वापस लें।

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए जैन युवा महासभा अध्यक्ष अनुराग जैन ने कहा की श्री सम्मेद शिखर जी को झारखंड सरकार द्वारा पर्यटन स्थल बनाने के निर्णय के विरोध में दिनांक 21.12.2022 को सागर बंद रहेगा विरोध स्वरूप निकाली जाने वाली रैली दोपहर 1:00 कटरा गौराबाई दिगंबर जैन मंदिर के प्रांगण में श्री 108 राष्ट्रीय गौरव गणाचार्य विराग सागर जी महाराज के आशीर्वाद के उपरांत प्रारंभ होगी जो कटरा ,तीन बत्ती ,बड़ा बाजार ,मोती नगर थाना ,राहतगढ़ बस स्टैंड ,विजय टॉकीज होते हुए पुन कटरा पहुंचेगी तदोपरांत आचार्य श्री के मंगल वचन सुनकर कार्यक्रम का समापन होगा जिसमें अनुराग जैन ने सागर के सभी व्यवसायियों से एक दिन प्रतिष्ठान बंद रखकर झारखड सरकार के इस निर्णय का विरोध करने की अपील की हैं

0
0

Comments are closed, but trackbacks and pingbacks are open.